F करेले के रस पीने के क्या-क्या फायदे हैं ~ INDIAN SUPPORT GROUP

करेले के रस पीने के क्या-क्या फायदे हैं


करेले के रस पीने के क्या-क्या फायदे हैं


करेले का स्वाद जितना कड़वा है उससे कहीं ज्यादा गुणकारी हुई है चिकित्सकीय विज्ञान में दर्शाया गया है कि करेले का रस पीने से कई बीमारियों का सामना नहीं करना पड़ता है और चिकित्सीय विज्ञान में इसका महत्व बताया गया है |


 हकीकत में करेला कितना गुणकारी है सेहत के लिए इससे ना होने वाली कई बीमारियां आगे हम पोस्ट में आपको बताएंगे जाने के लिए पूरी पोस्ट पढ़ें |
  
करेले के रस पीने के क्या-क्या फायदे हैं
 करेले के रस पीने के क्या-क्या फायदे हैं

 करेले का रस या सब्जी खाने से मनुष्य के लिए कई बीमारियों का सामना करना नहीं पड़ता है करेले का रस या सब्जी रक्त शोध के लिए बहुत ही उपयोगी है |


 और एक चिकित्सकीय औषधि भी है इससे कई बीमारियों की दवा बनाई जाती है आगे पढ़िए करेले करेले का सेवन करने से किन किन बीमारियों के उपचार के लिए सहायक है|

कफ से दिलाया छुटकारा


करेला गर्मियों के मौसम की खोज जलवायु से पर्याप्त सब्जी है इसमें अधिकतर मात्रा में फास्फोरस पाई जाती है और पुराने से पुराने कफ को खत्म कर सकता है अगर एक महीना प्रतिदिन इसका सेवन किया जाए और खांसी के लिए बहुत ही हद तक लाभदायक होता है अगर इसका प्रतिदिन सेवन किया जाए 1 महीने तक

शुगर के लेवल को  कम कर्ता है


अगर शुगर के रोगी को करेले के रस का एक चौथाई क्लास और इतना ही गाजर का रस मिलाकर पिलाया जाए प्रतिदिन तो ब्लड शुगर धीरे-धीरे कम होने लगता है और काफी हद तक कंट्रोल हो जाता है |


अगर करेले का रस सुबह सुबह बासी मुंह किया जाए तो बहुत ही लाभदायक साबित होता है क्योंकि इसमें यह तत्व पाए जाते हैं जैसे- मोमर्सिडीन और चैराटिन जैसे एंटी-हाइपर ग्लेसेमिक तत्व पाए जाते हैं.


पथरी रोग के लिए मृतक 


पथरी रोगियों को दो करेले का रस पिलाने से और करेले की सब्जी खिलाने से बहुत आराम मिलता है जिस से पथरी धीरे धीरे कर के पेशाब  रास्ते निकल जाती है 20 ग्राम करेले के रस में शहद मिलाकर पीने से पथरी धीरे-धीरे गर्ल कर पेशाब के रास्ते बाहर निकल जाती है अगर इसके पत्ते के 50 मिलीलीटर  रस में एक मिलाकर पीने से पेशाब खुलकर आ जाती है


भूख बढ़ाने में सहायक


भूख बढ़ाने में करेले का रस या सब्जी खाने से बहुत ही अत्यंत फायदा मिलता है अगर आपके परिवार में या फिर आपको भूख नहीं लगती तो करेली की सब्जी या फिर करे लेकर लगातार पीने खाने से बहू को काफी हद तक ज्यादा किया जा सकता है |



 जिससे कि वह तंदुरुस्ती पकड़ लेगा भूख नहीं लगने से मनुष्य के पोषण पूरा नहीं हो पाता है जिससे मनुष्य के लिए अत्यंत बीमारी लगने की समस्या रहती है करेले का रस पीने या सब्जी खाने से मनुष्य की पाचन क्रिया बहुत हद तक ठीक हो जाती है और फिर वह हष्ट पुष्ट होने लगता है 


त्वचा रोग के लिए करेला रामायण साबित होता है 


अगर आपको या आपके परिवार में किसी को त्वचा संबंधित बीमारी से परेशानी है तो करेले का सेवन से बहुत हद तक बीमारी से राहत मिल जाती है यही एक इस बीमारी में रामायण की तरह काम करता है |


जैसे कि  करेले में मौजूद बिटर्स और एल्केलाइड तत्व रक्त शोधक का काम करते हैं.
काम करते हैं अगर किसी को दान है तो वह सुबह सुबह करेले का रस को लगाए बात करो तो दांत काफी हद तक सही हो जाता है |


लगातार लगाने से दाग बिल्कुल नहीं रहता है और अगर किसी को फोड़ा फुंसी निकल आते हैं तो करेले को मिस्सी से पेश कर उसका लेप लगाने से फोड़े फुंसी ठीक हो जाती है


डायरिया रोग में भी करेला बहुत ही फायदेमंद  है


अगर किसी को उल्टी दस्त या फिर हैजा की समस्या है तो करेले के जूस में काला नमक मिलाकर पिलाने से दस्त उल्टी या फिर हैजा को बहुत हद तक कंट्रोल किया जा सकता है और करेले का रस या फिर करेला का सेवन करने से यकृत संबंधित बीमारियां सामने नहीं आते हैं और पाचन क्रिया बहुत अच्छी रहती है


बवासीर से राहत 


अगर किसी को खूनी बवासीर है तो फिर वह एक चम्मच करेले के रस में आधा चम्मच शक्कर मिलाकर एक महा प्रतिदिन लगातार सेवन करें तो उसकी बवासीर में खून आना 1 माह में बिल्कुल बंद हो जाता है गठिया या हाथ पैर में दर्द होने से करेले के रस से मालिश करने पर कुछ ही दिनों में आराम मिल जाता है


मोटापे से छुटकारा 


करेले का रस और एक नींबू का रस मिलाकर 2 माह तक प्रतिदिन सेवन करने से शरीर में पैदा होने वाले टॉक्सिक और अनावश्यक बता को कंट्रोल कर बाहर निकालता है जिससे हमारा शरीर बिल्कुल फिट रहता है जिससे हमारी पाचन क्रिया बिल्कुल सही रहती है 






Previous
Next Post »